Followers

Thursday, October 1, 2009

भारत देश हमारा

सबका प्यारा सबसे न्यारा भारत देश हमारा
मस्तक हिमराज विराजे इसकी शान निराली है।
कण-कण में है सोना , खेतों में हरियाली है
भारत देश है सबका प्यारा ,इसकी शान निराली है।।
हरा भरा है आँगन इसका,घर-घर में खुशहाली है
जन्में इसकी मिट्टी में गाँधी ,नेहरू और सुभाष हैं।
जन्मी इसी मिट्टी में लक्ष्मीबाई महान हैं
देकर अपनी जान की बाजी , दी हमको आजादी महान है।
सबका प्यारा सबसे न्यारा भारत देश हमारा।।
भिन्न -भिन्न है भाषा इसकी , भिन्न- भिन्न हैं बोली
भिन्न -भिन्न है जाति धरम पर सबकी एक ही अभिलाषा है
भिन्नता में एकता ही जिसकी पहचान है
एक ही माटी एक ही गुलशन क्यारी जुदा -जुदा है
सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तान महान है,हम इसकी संतान हैं।।
जन्म लिया है इस मिट्टी में ,पले बड़े हुए हैं इसकी गोद में
आंच न आने देंगे इसकी शान पर,रहते अपनी जान के
जान भले ही चली जाए, पर जाने न देंगे इसकी शान को
ऊँच-नीच और जात -पांत का भेद मिटाकर रखेंगे इसकी शान को
सबका प्यारा सबसे न्यारा भारत देश हमारा।।

2 comments:

  1. ब्लॉग जगत में आपका स्वागत हैं, लेखन कार्य के लिए बधाई
    यहाँ भी आयें आपके कदमो की आहट इंतजार हैं,
    http://lalitdotcom.blogspot.com
    http://lalitvani.blogspot.com
    http://shilpkarkemukhse.blogspot.com
    http://ekloharki.blogspot.com
    http://adahakegoth.blogspot.com
    http://www.gurturgoth.com
    http://arambh.blogspot.com
    http://alpanakegreeting.blogspot.com

    ReplyDelete
  2. "आंच न आने देंगे इसकी शान पर,रहते अपनी जान के
    जान भले ही चली जाए, पर जाने न देंगे इसकी शान को"

    आज देश चारों ओर दुश्मनों से घिरा है तो ऐसा प्रण लेना हर नागरिक का कर्तव्य है॥

    ReplyDelete

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.